विवाह के खर्च कैसे कम करें | Low Budget Marriage Ideas

Low Budget Marriage Ideas shaadi99 net

आज के इस लेख में हम चर्चा करेंगे विवाह के खर्चों पर कैसे विचार करके इन खर्चों को कम किया जा सकता है। यदि विवाह के खर्चों पर पहले ही विचार कर लिया जाए। तो खर्चों में कुछ कमी लाई जा सकती है। आइए जानते हैं इसके विषय में विस्तार से कि किन स्थानों पर शादी के खर्चों में कमी लाई जा सकती है।

संतुलित बजट पर क्वालिटी के साथ बिना समझौता किये एकदम भव्य विवाह करने के हेतु रखा जाना चाहिए इन बातों का ख्याल :-

सम्बंधित जानकारी :

1.विवाह स्थल का चुनाव | Low Budget Marriage Hall

अधिकतर लोगों का यह मानना होता है ।कि यदि वे अपने घर के अगले व पिछले हिस्से के किसी खुले भाग में विवाह करते हैं ।तो विवाह के खर्च में कमी आती है। जबकि ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि आप अपने घर के खुले हिस्से में यदि विवाह करने का निर्णय लेते हो। तो कुर्सी टेबल टेंट आदि के प्रबंध में होने वाले खर्चे किसी मैरिज हॉल या होटल की बुकिंग में लगने वाले खर्चों की तुलना में अधिक होते हैं। जबकि सारे प्रबंध होटलों में या मैरिज हॉल में पहले से किए हुए प्राप्त होते हैं। जबकि घर में ऐसा नहीं होता सारे प्रबंध स्वयं ही करने होते हैं ।अथवा किसी से करवाना होता है जो कि अधिक महंगा पड़ता है। इसलिए विवाह के खर्चे में कमी लाने के लिए किसी मैरिज हॉल की बुकिंग करना ज्यादा अच्छा होता है।

2.विवाह के भोजन का मेनू चयन करें | Food Menu For Wedding

अंतरराष्ट्रीय व्यंजन सर्वेक्षण के स्थान पर यदि भारतीय भोजन सर्वेक्षण का चुनाव करें। तो यह अंतर्राष्ट्रीय भोजन की थाली की तुलना में कम खर्च में ही उपलब्ध हो जाता है। अतः विवाह के मेन्यू में भारतीय फल सब्जियां जोकि सरलता से एवं कम खर्च में अपने आसपास के क्षेत्र में उपलब्ध हो जाता है इसे ही शामिल करें। इसके अतिरिक्त भोजन भले ही विभिन्न प्रकार के ना बनाकर कुछ सीमित आइटम्स ही बनाए जाएं। किंतु व्यंजनों को बनाने में इस बात का ख्याल रखा जाना चाहिए। कि भोजन स्वादिष्ट बने क्योंकि अधिकतर उत्सव में देखा जाता है। कि भोजन की बर्बादी अत्यधिक मात्रा में होती है। अतः यदि भोजन स्वादिष्ट होगा तो इसके बर्बाद होने की संभावनाएं कम होंगी।

3.विवाह स्थली के सजावट के खर्चों में कमी | Low Budget Marriage Decoration

विवाह स्थली के सजावट में पारंपरिक सजावट का चयन करने के बजाए अर्थात सुंदर एवं ताजे फूलों से तथा सुंदर कपड़ों से किए जाने वाले सजावट के स्थान पर यदि आप नकली फूलों एवं किसी बल्ब इत्यादि उजाले के साधन से सजावट करें। अथवा किसी आसपास के डेकोरेटर से सजावट करवाएं। सजावट में आप कुछ नयी सोच का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे ताजे फूलों वाली पारंपरिक सजावट की तुलना में कम खर्च बैठेगा।

4.शादी के जोड़ें लिए जा सकते हैं किराए पर | Wedding Dresses on Rent

क्योंकि दूल्हा दुल्हन के विवाह के जोड़े काफी महंगे आते हैं। एवं इसे पहनना सिर्फ एक ही बार होता है। ऐसे में यदि आपकी इच्छा हो तो शादी के जोड़े भाड़े पर भी लिए जा सकते हैं। दूल्हा दुल्हन के विवाह के इन वस्त्रों के किराये का प्रारंभ मात्र ₹2500 से से होता है। किंतु क्योंकि विवाह जीवन का एक महत्वपूर्ण पड़ाव है ।जिसमें सभी लोगों के अपने स्वतंत्र विचार एवं अपेक्षाएं होती है। अतः यदि आप विवाह के जोड़े किराय पर ना लेना चाहो तो इसे खरीद भी सकते हो। एवं विवाह के पश्चात पुनः इन जोड़ों को बेचा भी जा सकता है।

5.विवाह के लिए दुल्हन के गहनें लिए जा सकते हैं किराए पर | Wedding Jewellery on Rent

दुल्हन के आभूषण इत्यादि खरीदने में काफी खर्च आता है। किंतु यदि यह खर्च आपके बजट के अंदर नहीं आ रहा तो दुल्हन के आभूषणों के सेट ऑनलाइन किराए पर भी लिए जा सकते हैं। यह आभूषण सेट मात्र 2500 से ₹15000 तक के किराए पर उपलब्ध हो जाते हैं।

6.आमंत्रण पत्र के चयन में इन बातों के ख्याल रखें | Marriage invitation Card

विवाह के आमंत्रण पत्र में आप अपना स्वयं का साधारण एवं अच्छा सा लेख तैयार कर सकते हैं। अथवा यदि आप आमंत्रण पत्र छपवा रहे हैं तो अधिक उच्च गुणवत्ता वाली कागजों, रंग बिरंगी इंक आदि के उपयोग से आमंत्रण पत्र का खर्च बढ़ता है। अतः सामान्य साधारण कागज एवं स्याही इत्यादि का चयन करने से इनविटेशन कार्ड या निमंत्रण पत्र के खर्चे में कमी लाई जा सकती है। इसके अतिरिक्त डिजिटल विवाह निमंत्रण पत्र का उपयोग भी कर सकते हैं।

7.बेमौसम विवाह करने पर कई प्रकार से बचाए जा सकते हैं खर्चे : Wedding in Off Season

विवाह के अनुकूल मौसम में विवाह करने के बजाए यदि असमय विवाह किया जाए तो मैरिज हॉल से लेकर कैटरर्स इत्यादि के खर्चों पर छूट प्राप्त होती है। इसके अतिरिक्त आपके विवाह की तिथि भी किसी अन्य के विवाह तिथि से मैच नहीं करता।

8.विवाह की योजनाएं बनाने का कार्य करने वाले लोगों की सहायता लें | Wedding Planner Services

कई बार स्वयं ही विवाह की योजनाएं बनाने में अधिक खर्च पड़ जाता है। जबकि यदि आप अपनी बजट एवं अपेक्षा के अनुरूप विवाह की योजना बनाने वाले लोगों की सहायता ले तो वह आपकी बजट एवं अपेक्षा के अनुकूल काफी बेहतर योजना तैयार कर सकते हैं।

9.फोटोग्राफर का चयन करते वक्त रखें इन बातों का ख्याल:

किसी फोटोग्राफर को बुलाने के पहले इस बात का ख्याल रखें की वह आपके काम को लगन के साथ एवं आप की सुविधा का ख्याल रखते हुए करें। कहीं अपने लाभ के लिए आप की असुविधा का कारण ना बने। इस कार्य में किसी फोटोग्राफर के अतिरिक्त आप अच्छी फोटोग्राफी करने वाले किसी मित्र व रिश्तेदार का सहयोग भी ले सकते हैं।

10.डीजे स्पीकर भाड़े पर लेना कम खर्चे के लिए अनुकूल निर्णय है:-

डीजे अथवा संगीत साधन के लिए स्पीकर की व्यवस्था ना होने पर इसे भाड़े पर लिया जा सकता है। वर्तमान समय में क्योंकि लोग विवाह संबंधित गीत की अपेक्षा सामान्य गाने अधिक पसंद करते हैं।

11.सगे संबंधियों की बताई गई युक्तियां बड़ी काम आ सकती है:-

इन सब उपायों के अतिरिक्त सबसे महत्वपूर्ण उपाय है। अपने सगे संबंधियों एवं मित्रों को विवाह के तैयारियों में सम्मिलित करने का उपाय। क्योंकि सगे संबंधी एवं अन्य मित्रों के सुझाए गए उपाय आपको अधिक परिश्रम ,कठिनाई एवं खर्चे से बचाते हैं। उन सबकी अलग-अलग युक्तियां मिलकर आपके बहुत काम आती हैं।


सम्बंधित जानकारी :

शेयर करें
Posted by: Shaadi99 View 47

6 Comments so far:

  1. […] शादी का खर्च कम कैसे करें हिदी में […]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *